पत्नी और दो बच्चों के रहते दूसरी शादी रचाने वाला युवक पहली पत्नी के पहुंचते मण्डप छोड़ हुआ फरार

GIRIDIH (गिरिडीह)। पचम्बा थाना क्षेत्र में शनिवार को एक अजीबोगरीब वाकया घटित हुआ। पचम्बा के एक धर्मशाला में शादी का मण्डप सजा था। लड़की वाले वर और बाराती के आने के इंतजार में थे। इसी दौरान एक महिला वहां पुलिस के साथ पहुंची। उसके बाद शादी का मण्डप सजा का सजा रह गया और दूल्हा फरार हो गया।

 

क्या है मामला

बिहार के वैशाली जिले के एक युवक मुकेश वर्ष 2015 से गिरिडीह में रह कर यहां एक प्रसिद्ध लौह फैक्ट्री में काम कर रहा है। युवक शादीशुदा और दो बच्चों का बाप भी है। लेकिन उसने उस बात को छिपा कर मुफ्फसिल थाना क्षेत्र की एक लड़की से शादी रचाने की तैयारी में था। 16 दिसम्बर को उसकी शादी होनी थी। इसी दौरान युवक की पहली पत्नी पुलिस के साथ पचम्बा के उस धर्मशाला में पहुंच गई।

 

वर्ष 2007 में हुई थी शादी :

महिला ने बताया कि वर्ष 2007 में ही उसकी शादी मुकेश से हुई थी। दोनों की दो बेटी भी है। जिनकी उम्र 10 और 16 साल है। महिला ने बताया कि वर्ष 2015 में उसका पति मुकेश गिरिडीह आ गया और यहीं काम करने लगा। कुछ वर्षों तक उसका पति उसके पास आते जाते रहा। लेकिन पिछले एक वर्ष से उसका पति राशन का भी खर्च देना बंद कर दिया है। जब महिला ने पड़ताल की गई तो उसे पता चला कि उसके पति का अवैध संबंध एक लड़की के साथ है और दोनों शादी रचाने वाले हैं।

 

पचम्बा पुलिस आयी हरकत में :

इस जानकारी के बाद पीड़िता पत्नी अपने परिजनों के साथ गिरिडीह पहुंची और पचम्बा थाना प्रभारी को आपबीती सुनायी। मामला पत्नी के रहते दूसरे विवाह से जुड़ा था। ऐसे में थाना प्रभारी मुकेश दयाल सिंह हरकत में आए और पीड़िता के साथ थाना की टीम उक्त धर्मशाला पहुंची और पूरे मामले से लड़की के पक्ष को अवगत कराया। मामला जानने के बाद लड़की पक्ष ने विवाह से इंकार कर दिया। वहीं इसकी भनक लगते ही दूसरी शादी रचाने की तैयारी कर चुका दूल्हा शादी मंडप पहुंचने से पहले ही फरार हो गया।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *