कैच द रैन” विषयक नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत कर कलाकारों ने दिया ग्रामीणों को वर्षाजल संग्रह का संदेश

GIRIDIH (गिरिडीह)। एमेच्योर आर्टिस्ट एसोसिएशन ऑफ़ गिरिडीह (आग) के कलाकारों “कैच द रैन” विषयक नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत लोगों को वर्षा के जल संग्रह का संदेश दिया।

 

नेहरू युवा केन्द्र द्वारा प्रायोजित इस दो दिवसीय 18 एवं 19 फरवरी को प्रस्तुत नुक्कड़ नाटक के माध्यम से संस्था के कलाकारों रंगकर्मियों ने जिले के बेंगाबाद, गांण्डेय एवं सदर प्रखंड गिरिडीह के मोतीलेदा, शहरपुरा, पाण्डेयडीह, दूधपनिया, फुलजोरी आदि ग्रामीण क्षेत्रों में आम लोगों को पानी का महत्व समझया और उसे बचाने हेतु प्रेरित किया। नुक्कड़ नाटक के कलाकारों ने खासकर वर्षा के जल को कैसे रोका जा सकता हैं। इसे प्रदर्शित किया।

 

कलाकारों ने अपने अपने अभिनय क्षमता के माध्यम से लोगों में मची पानी के लिए हाहाकार और उससे बचाव का उपाय बताया। बताया कि वर्षा के जल को कैसे रोक कर कुआं और चापाकल में जल स्तर को बढ़ाया जा सकता है। कलाकारों ने नाटक के माध्यम से गांव के लोगों को जागरूक करने के साथ साथ उन्हें संवेदनशील बनने तथा भविष्य के प्रति सजग रहने को प्रेरित किया।

 

नाटक में कलाकारों में मदन मंजरवे, उत्तम चक्रवर्ती, विकास कुमार, संतोष कुमार, संदीप कुमार , सगीर, सोनू पांडे और देवेश वर्मा ने पात्रगत भूमिका का निर्वहन किया। जिसे देख गावं के लोग मंत्रमुग्ध हो गये और वर्षा के जल का संचय करने का संकल्प लिया।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *