उत्तराखंड के उत्तरकाशी में यमुनोत्री सुरंग हादसे में फसे हैं गिरिडीह के दो मजदूर

GIRIDIH (गिरिडीह)। उत्तराखंड के उत्तरकाशी में यमुनोत्री सुरंग हादसे में फंसे 40 मजदूरों में सर्वाधिक 18 मजदूर झारखंड के हैं। उन मजदूरों में दो मजदूर गिरिडीह जिले कर बिरनी प्रखण्ड के भी शामिल है।

 

 

उक्त सुरंग हादसे में फंसे गिरिडीह जिले के बिरनी प्रखण्ड के दो मजदूरों में सिमराढाब निवासी सुबोध कुमार वर्मा, पिता बुधन महतो एवं केशोडीह निवासी विश्वजीत कुमार वर्मा शामिल हैं। हादसे की खबर मिलने के बाद से उन दोनों मजदूरों के परिवार जनों का रो रो कर बुरा हाल है।

 

 

बता दें कि झारखण्ड प्रदेश में रोजी रोटी का घोर अभाव रहने के कारण प्रदेश के विभिन्न जिलों के मजदूर दूर देश व दूर प्रदेश पलायन करते हैं। जो अक्सर उन प्रदेशों और देशों में हादसे का शिकार होकर अपनी जान गवां बैठते है। इसी कड़ी में झारखण्ड प्रदेश के 40 मजदूर उत्तराखंड के उत्तरकाशी में यमुनोत्री सुरंग हादसे में फंसे हैं।

 

सुरंग में फंसे मजदूरों की सूची

 

हादसे के करीब 30 घंटे से ऊपर हो गए है। लेकिन अब तक सुरंग से उन मजदूरों को सकुशल बचा कर बाहर नहीं निकला जा सका है। आखिर कब तक उन मजदूरों को बचा कर बाहर निकाला जा सकेगा, अब तक कुछ भी नही पता नही चल पा रहा है।

 

 

उक्त घटना से आहत मजदूरों के परिजनों के साथ साथ स्थानीय समाज सेवियों, विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं व बुद्धिजीवियों ने झारखंड के मुख्यमंत्री से बचाव व राहत दल भेजकर उन मजदूरों को सकुशल निकलने में मदद करने और उन्हें सकुशल वापस लाने की गुहार लगाया है।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *