युवा आदान प्रदान कार्यक्रम के तहत 20 युवक युवतियों की टोली जम्मू-कश्मीर रवाना

GIRIDIH (गिरिडीह)। केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल की 7वीं बटालियन के तत्वाधान में 15वीं जनजाति युवा आदान-प्रदान कार्यक्रम की तृतीय बैच सोमवार अहले सुबह जम्मु (जम्मू-कश्मीर) के लिए रवाना किया गया।सीआरपीएफ 7वीं बटालियन के उप कमाण्डेन्ट नवीन विश्वकर्मा समेत अन्य उपस्थित अधिकारियों ने जनजाति समाज के 20 युवाओं की टोली को हरी झंडी दिखा रवाना किया। इस बैच में जनजाति समाज के 10 युवा एवं 10 युवतियों शामिल है।

 

 

बता दें कि केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल एवं नेहरू युवा केन्द्र द्वारा आयोजित नक्सल प्रभावित राज्यों के आदिवासी युवा व युवतियों को देश के चुनिंदा शहरों में भ्रमण कराकर कला व संस्कृति की जानकारी दी जाती है। उसी के तहत यह बैच जम्मु (J&K) के लिये भेजा गया। जहां 02 नवम्बर से आगामी 08 नवम्बर तक कार्यक्रम आयोजित है।

 

 

सी. आर. पी. एफ.7 बटालियन के उप कमाण्डेन्ट नवीन विश्वकर्मा ने बताया कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य विभिन्न विकास गतिविधियों, कौशल विकास, शैक्षिक और रोजगार के अवसरों पर ध्यान केन्द्रित करते हुए देश के विभिन्न राज्यों में हो रही तकनीकी और औद्योगिक उन्नति को आदिवासी युवा व युवतियों के समक्ष उजागर करना है।

 

 

उक्त कार्यक्रम के आयोजन के दौरान सी. आर. पी. एफ.7 बटालियन के उप कमाण्डेन्ट नवीन विश्वकर्मा, चिकित्सा अधिकारी डा० विवेक द्विवेदी, तथा सुबेदार मेजर पन्नालाल ठाकुर, उपनिरिक्षक चन्द्रशेखर सिंह एवं नेहरू युवा केन्द्र गिरीडीह के एपीए नैयर परवेज तथा 07 सी.आर.पी.एफ. एवं नेहरू युवा केन्द्र गिरीडीह के अन्य कर्मी उपस्थित थे।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *