क्रेन से गिरने से हुई मजदूर की मौत, मिला मुआवजा

GIRIDIH (गिरिडीह)। जिले के विश्व प्रसिद्ध जैन तीर्थ क्षेत्र मधुबन में काम करने के दौरान क्रेन से गिर कर एक मजदूर की मौत हो गयी। मृतक मजदूर की पहचान गिरिडीह सदर प्रखंड के चैताडीह निवासी फिरोज अंसारी उर्फ चरका के रूप में हुई। हादसे के बाद वहां कार्यरत अन्य मजदूरों समेत मृतक के परिजन मुआवजा की मांग पर अड़ गए।

 

 

घटना की सूचना मिलते ही मधुबन थाना प्रभारी राजू मुंडा, सदर विधायक सुदिव्य कुमार सोनू, बीडीओ मनोज कुमार मरांडी, प्रमुख पीरटांड़ टुडू, समेत काफी संख्या में स्थानीय झामुमो कार्यकर्ता घटना स्थल पर पहुँचे और सारी वस्तु स्थिति से अवगत हुए।

 

 

बाद में विधायक के पहल पर मधुबन के गुणायतन ट्रस्ट के प्रबंधक के साथ त्रिपक्षीय वार्ता हुई। जिसमें ट्रस्ट की ओर से मृतक मजदूर के परिजन को बतौर मुआवजा 11लाख 10 हजार 530 रुपया दिये जाने पर समझौता हुआ। ट्रस्ट की ओर से तत्काल मृतक के परिजन को मुआवजा की राशि प्रदान की गई। उसके बाद परिजन पुलिस को शव उठाने दिया। समझौता वार्ता के बाद देर शाम मधुबन पुलिस ने मृतक के शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु गिरिडीह सदर अस्पताल भेज दिया।

 

 

बता दें कि मधुबन थाना क्षेत्र के गुणायतन ट्रस्ट द्वारा सम्मेदशिखर मधुबन में मन्दिर निर्माण का काम चल रहा है। उक्त निर्माण कार्य मे चैताडीह निवासी फिरोज अंसारी उर्फ चरका भी बतौर मजदूर कार्यरत था। रोज की तरह सोमवार को भी फिरोज अंसारी उर्फ चरका क्रेन के ऊपर चढ़कर काम कर रहा था। इसी दौरान उसका पैर फिसल गया और वह लगभग 20-25 फिट नीचे जमीन पर जा गिरा। जिसमें घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *