पैदल आये अपराधियों ने दम्पत्ति की गोली मार की हत्या, पुलिस जुटी जांच पड़ताल में

रांची (JHARKHAND)। राजधानी रांची के पिस्का मोड़ के जनक नगर रोड नंबर चार में बिरसा अपनी तीसरी पत्नी के साथ रहता था। झोपड़ीनुमा घर में पत्नी-पत्नी दोनों साथ रहते थे। बुधवार की शाम साढ़े सात बजे बिरसा घर के बाहर किचन में कुर्सी लगाकर बैठा हुआ था। पत्नी भीतर कमरे में थी। बिरसा के झोपड़ीनुमा घर के सामने खुली जगह है।

 

दो अपराधी पैदल हाथों में पिस्टल लिए बिरसा के घर में घुसे। अपराधियों ने पहले बिरसा के सिर में गोली दाग दी। इससे बिरसा जमीन पर गिर गया। गोली की आवाज सुनकर पत्नी जैसे ही कमरे से बाहर निकली तो अपराधियों ने कमरे के दरवाजे के पास ही उसे गोली मार दी। उसके जमीन पर गिरने के बाद दोनों अपराधियों ने ताबड़तोड़ पति और पत्नी पर गोलियां चलानी शुरू कर दी। करीब आठ राउंड फायरिंग की। इसमें पति और पत्नी को सात गोली लगी है। घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। दोनों को जसलोक अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। इधर, पुलिस मामले की जांच में जुटी है। पुलिस को आशंका है कि कार और बाइक से ही अपराधी पहुंचे थे। पुलिस मुहल्ले में लगे सीसीटीवी से कार और बाइक की पहचान कर रही है।

रेकी कर दिया घटना को अंजाम

बिरसा और उसकी पत्नी की हत्या पूरी प्लानिंग के साथ की गई है। अपराधियों ने पहले बिरसा की रेकी की। भागने के लिए उस रास्ता का इस्तेमाल किया, जहां सीसीटीवी नहीं लगा हुआ है। पुलिस को आशंका है कि अपराधियों ने दंपती की हत्या करने के बाद बिरसा के घर के पीछे झाड़ियों की तरफ भागे। बिरसा के घर के पीछे डैम और जनक नगर का रास्ता जाता है।

सीसीटीवी फुटेज में पैदल आते दिखे दो अपराधी

घटना के बाद पुलिस ने उस इलाके में सीसीटीवी से फुटेज खंगाला। बिरसा उरांव के घर के दाहिने रास्ते से दो लोग पैदल आते दिखे हैं। पुलिस को आशंका है कि ये दोनों ने ही घटना को अंजाम दिया होगा। दोनों चेहरे पर मास्क लगाए हुए थे। हालांकि, पुलिस फुटेज के आधार पर दोनों अपराधियों की खोजबीन में जुटी है।

हत्या के बाद अपराधियों ने किया फोन

पुलिस के अनुसार, दंपती की हत्या करने के बाद अपराधियों ने एक व्यक्ति को फोन किया। कहा कि काम हो गया है। पुलिस को यह भी पता चला कि जिस वक्त अपराधी घटना को अंजाम दे रहे थे, उस समय एक लाल गंजी वाला घटनास्थल से कुछ दूरी पर खड़ा था। बताया जा रहा है कि अपराधियों ने उसी व्यक्ति को फोन कर पूरी जानकारी दी है।

जमीन विवाद मामले की पुलिस कर रही जांच

बताया जा रहा है कि जेल से छूटने के बाद बिरसा जमीन का कारोबार भी करने लगा था। पुलिस जमीन विवाद और पुरानी अदावत के बिंदु पर जांच शुरू कर दी है। पुलिस पता लगा रही है कि बिरसा से वर्तमान में किन-किन लोगों का विवाद चल रहा था। पुलिस को यह भी पता चला है कि पूरे मुहल्ले में बिरसा का दहशत था। मुहल्ले का कोई भी व्यक्ति बिरसा से दुश्मनी नहीं लेता था।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *