राष्ट्रीय गणित दिवस पर सरस्वती शिशु विद्या मंदिर में मनायी गयी श्रीनिवास रामानुजन की जयंती

GIRIDIH (गिरिडीह)। राष्ट्रीय गणित दिवस पर सरस्वती शिशु विद्या मंदिर में शुक्रवार को श्रीनिवास रामानुजन की जयंती मनायी गयी। विद्यालय प्रबंधकारिणी समिति के उपाध्यक्ष डॉ सतीश्वर प्रसाद सिन्हा, कोकिलचंद एवं अजीत मिश्रा ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर महान गणितज्ञ रामानुजन की तस्वीर पर श्रद्धा सुमन अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दिया।

 

 

 

 

वहीं मौके पर डॉ सतीश्वर प्रसाद सिन्हा ने कहा कि महान भारतीय गणितज्ञ रामानुजन बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। अपने 32 वर्ष के जीवन काल में गणित के क्षेत्र में उन्होंने जो कार्य किया उसे सिद्ध करने के लिए दुनिया भर के गणित के विद्वान आज भी जुटे हुए हैं। कहा कि शून्य और अनंत जैसी गणितीय खोजें ना हुई होती तो विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के जिन शिखरों पर मानव सभ्यता आज खड़ी है। वहां तक पहुंचना शायद संभव नहीं हो पता। श्रीनिवास रामानुजन ने। यह कार्य कर दिखाया। कहा कि हमारे जीवन का हर एक पहलू एवं आध्यात्म गणित से जुड़ा हुआ है। बच्चों को गणित के सवालों पर घबराना नहीं चाहिए। उसे बड़े ही सरलता से हल करना चाहिए।

 

 

कार्यक्रम की प्रस्तावना अनिल कुमार एवं संचालन अरविंद त्रिवेदी ने किया। बहन मीतश्री, अंकिता कुमारी, परिणीता, प्रिया ने उनके जीवन चरित्र पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर बच्चों के बीच गणित दौड़, चित्रांकन, सूत्र लेखन प्रतियोगिता आयोजित हुई। वहीं बच्चों ने गणित के मॉडल भी प्रस्तुत किया।

 

 

 

कार्यक्रम को सफल बनाने में सुमन मंडल, राजेश नंदन, मनोज चौधरी, रामकिशोर प्रसाद की भूमिका सराहनीय रही।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *