पितृपक्ष मेला 28 सितम्बर से, अंतिम तैयारी में जुटा गया जिला प्रशासन

◆15 लाख तीर्थयात्रियों के तर्पण व पींडदान करने पहुंचने की उम्मीद

 

 

◆प्रशासन ने निर्धारित किया वाहन पार्किंग स्पॉट, कई क्षेत्रों में वाहनों का प्रवेश रहेगा प्रतिबंधित

 

PATNA (पटना)।   पितृपक्ष मेले में देश विदेश आए यात्रियों के आवागमन के लिए निःशुल्क ई रिक्शा का परिचालन किया जाएगा। प्रीपेड छोटे वाहनों का प्रति घंटा के अनुसार रेट का निर्धारण किया गया है।

गया में पितृपक्ष मेला को लेकर तैयारी अंतिम चरण में है। इस वर्ष पितृपक्ष मेला 28 सितंबर से शुरू होकर 14 अक्टूबर तक चलेगा। 17 दिनों तक गयाजी में चलने वाले पितृपक्ष मेला में इस बार 15 लाख तीर्थयात्री तर्पण व पींडदान करने यहां आएंगे। हर स्तर पर यात्रियों की बेहतर सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए प्रशासन बेहतर से बेहतर व्यवस्था करने में जुटी है।

इन जगहों पर होगी छोटी बड़ी वाहनों की पार्किंग

मेला के दौरान लाखों की संख्या में छोटी बड़ी वाहनों गयाजी पहुंचती हैं। वाहनों की पार्किंग के लिए कई स्थान तय किया गया है। बड़े वाहन यहां तो छोटे वाहन इन स्थानों पर होगी पार्किंग वहीं डीएम डॉ. त्यागराजन एसएम ने बताया कि सिकड़िया, गया कॉलेज खेल परिसर और प्रेतशिला की पहाड़ तल्ली के समीप स्थित किसान कॉलेज के मैदान में बड़े एवं छोटे वाहन तथा केंदुई सूर्य मंदिर परिसर में बड़े वाहन, आईटीआई पॉलिटेक्निक मैदान में बड़े और छोटे वाहन, रेलवे स्टेशन परिसर में छोटे वाहन, पंचायती अखाड़ा रेल अंडरपास के सटे पूर्व में छोटे वाहन, आईडीएच अस्पताल में छोटे वाहन, भूसंडा मैदान में बड़े एवं छोटे वाहन, सीता कुंड के पास सड़क किनारे एवं पंचदेव धाम के समीप छोटे वाहन, रामशिला मोड़ के पास छोटे वाहनों के पड़ाव की व्यवस्था की गई है।

इन इलाकों में वाहन प्रवेश रहेगा पूर्ण प्रतिबंधित :

 

विष्णुपद मुख्य मेला क्षेत्र के आसपास ट्रैफिक की विशेष व्यवस्था की जा रही है। बंगाली आश्रम के आगे तुलसी पार्क श्मशान घाट विष्णुपद मंदिर की ओर ऑटो रिक्शा, टैपु, निजी यात्री बस का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। बाईपास की तरफ से छोटे वाहन मंगला गौरी मोड़ गोदावरी पथ होते हुए समीर तकिया आएंगे। उक्त सड़क के दोनों किनारों पर वाहनों का पड़ाव नहीं रहेगा। बोधगया से गया जाने के लिए रिवर साइड से घुघरीटांड़, मंगलागौरी मोड गोदावरी, समीर तक्या होकर जाया जाएगा। छोटे वाहनों के लिए वन-वे मार्ग दिग्धी तालाब के दक्षिण-पूर्वी भाग स्थित कोईरीबारी से नादरागंज होते हुए पूर्वी मोड़ से टिल्हा धर्मशाला पूर्वी भाग- चांदचौरा पूर्वी चांदचौरा पश्चिमी के उतरी रोड राजेन्द्र आश्रम – टिल्हा धर्मशाला का पश्चिमी गेट-दिग्धी तालाब मोड़ से पश्चिम आईएमए रोड तक वन- वे रहेगा जीबी रोड में पीरमंसूर से पिलग्रीम अस्पताल मोड़ तक सिर्फ उत्तर पटना की ओर जाने के लिए खुला रहेगा।

मानपुर पुल के पश्चिमी छोर से किरण सिनेमा टावर चौक रमना रोड- मित्तल मौजेक- परमंसुर तक का मार्ग केवल उत्तर की ओर से आने वाले वाहनों के लिए खुला रहेगा। काशीनाथ मोड़ से स्टेशन की ओर जाने वाले वाहन नगमतिया मोड़ से मुड़ कर रेलवे अस्पताल मोड़ – रेलवे गुमटी नं- 01 जीआरपी होते हुए सीधे स्टेशन परिसर जाएंगे। बाटा मोड़ से सीधे स्टेशन की ओर छोटे वाहनों का जाना प्रतिबंधित रहेगा।

रेलवे स्टेशन की ओर से आने वाले वाहन बाटा मोड़ होते हुए स्वराजपुरी रोड होकर जाएंगे। समीरतक्या से मंगलागौरी की ओर सीधे वाहन नहीं जाएगी। समीरतक्या से बोधगया की ओर जाने का मार्ग समीरतक्या चौक- चांदचौरा पश्चिमी चौक- नारायण चुआ मोड़-बंगाली आश्रम- नारायणी पुल होकर घुघरीटांड रिभर साइड बाईपास होकर बोधगया या जाएंगे। घुघरीटांड से 05 नं होकर बोधगया जा सकेंगे। घुघरीटांड से मंगलागौरी की ओर गोदावरी होते हुए समीरतक्या की ओर छोटे वाहन जा सकेंगे। नारायण चुआं मोड़ से उन मंगलागौरी की ओर वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। नारायण चुआं से उत्तर की ओर वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा।

कब होगा कौन सा श्राद्ध देखें :

दिनांक           दिन          तिथि/श्राद्ध
28 सितंबर 2023   गुरुवार     पूर्णिमा श्राद्ध
29 सितंबर 2023   शुक्रवार    पूर्णिमा श्राद्ध
30 सितंबर 2023   शनिवार    प्रतिपदा श्राद्ध
01 अक्टूबर 2023   रविवार    द्वितीया श्राद्ध
02 अक्टूबर 2023   सोमवार   तृतीया श्राद्ध
03 अक्टूबर 2023   मंगलवार  चतुर्थी श्राद्ध
04 अक्टूबर 2023   बुधवार     पंचमी श्राद्ध
05 अक्टूबर 2023   गुरुवार     षष्ठी श्राद्ध
06 अक्टूबर 2023   शुक्रवार    सप्तमी श्राद्ध
07 अक्टूबर 2023   शनिवार   अष्टमी श्राद्ध
08 अक्टूबर 2023   रविवार     नवमी श्राद्ध
09 अक्टूबर 2023   सोमवार    दशमी श्राद्ध
10 अक्टूबर 2023   मंगलवार   एकादशी श्राद्ध
11 अक्टूबर 2023   बुधवार      द्वादशी श्राद्ध
12 अक्टूबर 2023   गुरुवार      त्रयोदशी श्राद्ध
13 अक्टूबर 2023   शुक्रवार     चतुर्दशी श्राद्ध
14 अक्टूबर 2023   शनिवार  सर्व पितृ अमावस्या श्राद्ध

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *