विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस पर सीनियर सेकेंडरी स्कूल में कार्यक्रम का आयोजन

बोकारो :

विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस वर्ष 2003 से हर साल 10 सितंबर को मनाया जाता है.  विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization, WHO) ने आत्महत्या को रोकने के लिए गैर सरकारी संगठन और सामाजिक संगठनों के साथ मिलकर एक साझा पहल की शुरुआत की थी. विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस पर इस वर्ष की थीम “कार्रवाई के माध्यम से आशा पैदा करना” (Creating Hope Through Action) है.

दिनाँक 09 सितंबर को विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस की पूर्व संध्या पर सेक्टर 08/बी स्थित बोकारो इस्पात सीनियर सेकेंडरी स्कूल में आत्महत्या रोकथाम पर एक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया. कार्यक्रम में प्रतिभागी के रूप में कक्षा 09वीं, 10वीं, 11वीं 12वीं के छात्र सम्मिलित थे। सत्र के दौरान विद्यालय के प्राचार्य एवं अन्य शिक्षक भी  उपस्थित थे. कार्यक्रम के मुख्य वक्ता डॉ. अशोक  दास, सलाहकार, मनोचिकित्सा विभाग, बोकारो जनरल अस्पताल ने बताया कि आत्महत्या एक मानसिक स्वास्थ्य समस्या है जिसमें व्यक्ति अपने जीवन को खत्म करने की कोशिश करता है। किशोर आत्महत्या हमेशा एक गंभीर और कठिन विषय होता है जिसमें अठारह साल से कम आयु के बच्चे परीक्षा में विफलता के डर के कारण मौत को गले लगा लेते हैं. विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस लोगों को आत्महत्या के खिलाफ सहयोग और समर्थन प्रदान करने के लिए जागरूक करता है, और सामाजिक मानसिक स्वास्थ्य मुद्दों पर ध्यान देने का संदेश देता है तथा विशेष रूप से मानसिक स्वास्थ्य सेवाओं, जैसे कि आत्महत्या होने के लक्षणों की पहचान, बचाव और सहयोग, को बढ़ावा देने के लिए महत्वपूर्ण है।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *