अच्छी परवरिश का झांसा देकर एक दम्पत्ति ने ऑटो चालक की आठ माह की बच्ची को 90 हजार में बेच दिया

रांची (RANCHI)। किसी भी मां-बाप के लिए उसका बच्चा उसके लिए उसकी दुनिया होते हैं। वह बच्चे के पालन-पोषण के लिए दुनिया एक कर देते हैं। वह उन्हें पढ़ाते लिखाते हैं और उनके उज्जवल भविष्य के लिए दिन रात एक कर देते हैं। भले ही वह कितने भी बेबस व लाचार क्यों न हों।

 

वहीं झारखंड के रामगढ़ में एक लाचार और बेबस माँ से उसकी लाचारगी और बेबसी का फायदा उठा एक दम्पत्ति ने एक ऑटो चालक की पत्नी को झांसा देकर पहले उससे उसकी आठ माह की मासूम बच्ची को लिया। फिर उसे 90 हजार रुपये में बेच दिया। अब बच्ची के पिता ने थाने में प्राथमिकी दर्ज करा इंसाफ की गुहार लगाया है।

ऑटो चलाता है बच्ची का पिता

जानकारी के अनुसार, रामगढ़ में ऑटो चलाने वाले राहुल सहनी ने पुलिस में एक शिकायत दर्ज कराई है। इस शिकायत में उसने कहा है कि वह ऑटो चलाकर परिवार का भरण-पोषण करता है। चार महीने पहले एक सड़क दुर्घटना में उसका पैर टूट गया था। इस वजह से वह ऑटो नहीं चला पा रहा था। लगभग दो महीने पहले उसकी पत्नी बच्ची को लेकर हजारीबाग के चुरचू स्थित अपने मायके गई थी। वह 11 फरवरी को ही मायके से लौटी तो उसके साथ उसकी बच्ची नहीं थी।

 

झांसा देकर आरोपी दम्पत्ति ने माँ से लिया था बच्ची

बच्ची के बारे में पूछने पर उसकी पत्नी ने बताया कि कुछ दिन पहले राहुल कुमार राम और उनकी पत्नी रीता देवी ने उससे संपर्क किया था। दोनों ने उससे कहा कि पैर टूटने की वजह से तुम्हारा पति कुछ काम नहीं कर रहा है और तुम लोग अपनी बच्ची का पालन-पोषण ठीक से नहीं कर पा रहे हो। आरोपी दंपति ने उसे समझाया कि अभी तुम अपनी बच्ची हमें दे दो और हम उसकी अच्छी परवरिश करेंगे। जब तुम्हारा पति ठीक हो जाएगा, तो बच्ची को वापस ले जाना।

बच्ची के पिता ने लगाया है इंसाफ की गुहार

बच्ची के पिता ने शिकायत में कहा है जब उसने अपनी बच्ची वापस पाने के लिए राहुल कुमार राम और रीता देवी से संपर्क किया, तो उन्होंने बच्ची को लौटाने से इनकार कर दिया। दंपति ने बताया कि उन्होंने उसकी बच्ची को 90 हजार रुपए में बेच दिया है। बहरहाल, रामगढ़ पुलिस एफआईआर दर्ज कर छानबीन में जुटी है। लेकिन बच्ची को बरामद नहीं किया जा सका है।

 

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *