झारखंड आंदोलनकारी संघर्ष मोर्चा ने किया जैनामोड़ चौक पर एनएच-23 को 4 घण्टे तक जाम

BOKARO (बोकारो)। झारखंड आंदोलनकारी संघर्ष मोर्चा तुपकाडीह ने अपनी 5 सूत्री मांगों को लेकर शनिवार को जैनामोड़ चौक पर एनएच-23 को जाम कर दिया। फोरलेन सड़क पर सुबह 9 बजे से दोपहर एक बजे तक आवागमन पूरी तरह ठप रहने से सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई।

 

जाम की सूचना पर बेरमो एसडीओ, जरीडीह सीओ प्रणव ऋतुराज, बीडीओ जयपाल महतो, थाना प्रभारी अमीत राय सदल-बल जाम स्थल पहुंचे और लोगों को समझने का प्रयास किया। लेकिन आंदोलनकारियों ने उनकी एक नहीं सुनी। अंत में दोपहर 1 बजे स्वतः जाम समाप्त कर दिया गया।

 

लगातार 4 घण्टे तक सड़क के जाम रहने और आवागमन ठप्प रहने से लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। हालांकि मौके पर मौजूद पुलिस व प्रशासनिक पदाधिकारी मूकदर्शक बने रहे।

 

सड़क जाम में शामिल मोर्चा के सदस्यों ने सरकार पर उनकी मांगों की अनदेखी का आरोप लगाया। आंदोलनकारियों ने कहा कि उनकी मांगों में झारखंड आंदोलनकारियों को पहचान पत्र देने, प्रतिमाह 50 हजार रुपए सम्मान राशि देने, आश्रितों की सीधी नियुक्ति, समता जजमेंट लागू करने, मूलवासियों आदिवासियों को नौकरियों में 75 प्रतिशत आरक्षण देने की मांग शामिल है। कहा कि राज्य सरकार को इन मांगों से संबंधित ज्ञापन पहले ही दिया गया था, लेकिन उस पर ध्यान नहीं दिया गया। अंततः विवश होकर आंदोलन का रास्ता अख्तियार करना पड़ा।

 

सड़क जाम करने वालों में उमेश महतो, संतोष महतो, शंकर महतो, पानूलाल गोसाई, कुंदन महतो, दिलीप कुमार, राजेंद्र कुमार महतो, जितेंद्र महली, राजेंद्र कुमार महतो, जोगेंद्र प्रसाद महतो, संतोष कुमार महली, अशोक कुमार, इंद्रदेव सोरेन, शिवलाल हेंब्रम, सानू कुमार महली, सचिन कुमार, उपेंद्र कुमार महली सहित सैकड़ों ग्रामीण शामिल थे।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *