ऑनलाइन ठगी करने वाले चार साइबर अपराधियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

GIRIDIH (गिरिडीह)। ऑनलाइन सेक्स करने का प्रलोभन देकर वीडीओ कॉल कर लड़कियों के न्यूड फोटो के जरिए पढ़े लिखे लड़को को फंसाने के आरोप में साइबर थाना पुलिस ने चार साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार अपराधियों के पास से पुलिस ने 13 मोबाइल सेट 19 फर्जी सिम कार्ड और चार अलग अलग बैंको के एटीएम कार्ड बरामद किया है।

 

पुलिस कार्यालय द्वारा एक प्रेस बयान जारी कर बताया गया है कि एसपी को मिले गुप्त सूचना के आधार पर साइबर थाना पुलिस ने जिले के बगोदर थाना क्षेत्र के अटकाडीह के उपरबागी गांव में छापेमारी कर दो साइबर अपराधी को गिरफ्तार किया। इनके निशानदेही पर साइबर अपराध करने वाले इनके दो अन्य सहयोगी को भी इसी गाँव में छापामारी कर गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार अपराधियों में दीपू प्रसाद पेसर बिहारी महतो, पप्पू प्रसाद पेसर बिहारी महतो, सतीश कुमार पेसर उमेश प्रसाद एवं अतिश कुमार पेसर उमेश प्रसाद सभी साकिन अटकाडीह ऊपर बागी, थाना बगोदर, जिला गिरिडीह शामिल है।

 

 

जिनके विरुद्ध साइबर थाना कांड संख्या 30/2023 दिनांक 17/ 11/23 में कांड दर्ज किया गया है। वहीं इनके तीन सहयोगी को भी नामजद किया गया है। जिनमे विक्रम मंडल, रितेश मंडल एवं अनुराग कुमार पेसर अशोक कुमार तीनों साकिन अटकाडीह उपर बागी थाना बागोदर शामिल हैं।

साइबर पुलिस के हत्थे चढ़े अपराधियों ने पूछताछ में कबूला की वो फेसबुक में फेक लड़कियों के फोटो पोस्ट कर उसे लाइक और फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजने वाले युवाओं से उनके कॉन्टेक्ट नंबर मांगा जाता है। इस दौरान जो युवा फंस जाते है, उसे वीडीओ कॉल करने वाली लड़कियों सामने न्यूड हो कर ऑनलाइन सेक्स करने का प्रलोभन देकर वैसे युवाओं को फंसा कर ब्लैकमेलिंग करता है। साइबर पुलिस इन अपराधियों को जेल भेज दिया है। उल्लेखनिय है कि विगत दो माह में गिरिडीह पुलिस कुल 42 साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया है।

एसपी की गिरिडीह वासियों से अपील

गिरिडीह एसपी दीपक कुमार शर्मा ने साइबर अपराध की घटनाओं से बचने के लिये जिले वासियों से अपील किया है कि किसी को भी अपना बैंक संबंधित निजी जानकारी जैसे ओटीपी, सीवीवी, एटीएम नम्बर आदि शेयर न करें तथा व्हाटएप्प / फेसबुक एवं अन्य शोसल मिडिया एप्प पर अनजान नम्बर से आ रह कॉल पर बात करने में सतर्क रहे।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *